Karnataka govt launches “Apthamitra” helpline and app to fight COVID-19


Karnataka govt launches “Apthamitra” helpline and app to fight COVID-19


 
 
Karnataka government launched “Apthamitra” helpline with an exclusive toll free number and a mobile app, aimed at providing required medical advice and guidance for those in need.
 
The help line and app was launched by Chief Minister B S Yediyurappa in the presence of senior Ministers and officials of the department.
 
According to the department, the ‘Apthamitra’ helpline will work from 8 AM to 8 PM, with helpline Centers at six locations in Bengaluru (four centers), Mysore and Mangalore (Bantwal) with total of 300 seat capacity are being set up.
 
It’s a two tier system where the first tier is manned by AYUSH or nursing or pharma final year volunteer students.
 
The second tier is manned by MBBS or Integrated Medicine or AYUSH volunteer doctors connecting from their respective locations for risk assessment, counselling, telemedicine and referral for testing and treatment, it added. The helpline “14410” will cover residents in all parts of the state.
 
While the ‘Apthamitra’ App is for those with smart phone to seek advice for telemedicine from doctors directly.
 
The purpose of this initiative is to reach out to people, especially those staying in Corona hotspot areas, identify those having Influenza Like Illness (ILI), Severe Acute Respiratory Infection (SERI), coronavirus like symptoms or having high risk of getting infected.
 
This entire Solution is owned by Health and Family Welfare Department and State Disaster Management Authority.
 
The system works under the aegis of NASSCOM, Bengaluru.
 
 
Karnataka
 
  • Chief minister –  B. S. Yediyurappa
  • Capital – Bengaluru 
  • Formation – 1 November 1956; (as Mysore State)
 
Source   economictimes-
 
 
 

कर्नाटक सरकार ने COVID-19 से लड़ने के लिए “आपत्तिमित्र” हेल्पलाइन और ऐप लॉन्च किया


र्नाटक सरकार ने बुधवार को एक विशेष टोल फ्री नंबर और एक मोबाइल ऐप के साथ “आप्तमित्र” हेल्पलाइन शुरू की, जिसका उद्देश्य जरूरतमंद लोगों के लिए आवश्यक चिकित्सीय सलाह और मार्गदर्शन प्रदान करना है।

हेल्प लाइन और ऐप को मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने विभाग के वरिष्ठ मंत्रियों और अधिकारियों की मौजूदगी में लॉन्च किया।
विभाग के अनुसार, आप्तमित्र ’हेल्पलाइन सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक काम करेगी, जिसमें बेंगलुरु (चार केंद्र), मैसूर और मैंगलोर (बंटवाल) में छह स्थानों पर हेल्पलाइन केंद्र स्थापित किए जाएंगे, जिसमें कुल 300 सीट की क्षमता है।
यह एक दो स्तरीय प्रणाली है, जहां प्रथम श्रेणी में आयुष या नर्सिंग या फार्मा अंतिम वर्ष के स्वयंसेवक छात्रों द्वारा संचालित किया जाता है।
दूसरा टियर एमबीबीएस या इंटीग्रेटेड मेडिसिन या आयुष स्वयंसेवक डॉक्टरों द्वारा संचालित किया जाता है, जो परीक्षण और उपचार के लिए जोखिम मूल्यांकन, परामर्श, टेलीमेडिसिन और रेफरल के लिए अपने संबंधित स्थानों से जुड़ते हैं। हेल्पलाइन “14410” में राज्य के सभी हिस्सों के निवासी शामिल होंगे।
जबकि ‘आप्तमित्र’ ऐप स्मार्ट फोन वालों के लिए है जो सीधे डॉक्टरों से टेलीमेडिसिन के लिए सलाह लेते हैं।
इस पहल का उद्देश्य लोगों तक पहुंचना है, विशेष रूप से कोरोना हॉटस्पॉट क्षेत्रों में रहने वाले लोगों की पहचान, जिनमें इन्फ्लुएंजा जैसे बीमारी (ILI), गंभीर तीव्र श्वसन संक्रमण (SERI), कोरोनोवायरस जैसे लक्षणों और संक्रमित होने का उच्च जोखिम है।
यह संपूर्ण समाधान स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग और राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के स्वामित्व में है।
यह प्रणाली नासकॉम, बेंगलुरु के तत्वावधान में काम करती है।
 
कर्नाटक
 
  • मुख्यमंत्री – बी.एस.येदियुरप्पा
  • राजधानी – बेंगलुरु
  • गठन – 1 नवंबर 1956; (मैसूर राज्य के रूप में)
स्रोत   economictimes-
Print Friendly, PDF & Email