World Bank in collab with AIMA organises virtual workshop on “Contract Management during Emergency situations”


World Bank in collab with AIMA organises virtual workshop on “Contract Management during Emergency situations”


 
A virtual workshop on “Contract Management during Emergency situations” was organized by World Bank in collaboration with AIMA (All India Management Association) for Project Management Unit of Jhelum Tawi Flood Recovery Project which is implementing USD 250 Million Flood Recovery Project funded by World Bank in the union territory of J&K.
 
AIR Correspondent reports that the objective of the workshop was to educate participants about the likely adverse impact of COVID-19 pandemic on the implementation of the bank funded projects, its possible implications on contract management and to equip them with the various mitigations measures.
 
Legal expert briefed participants about various provisions in Indian legal system for interpreting contractual provisions including force majeure in emergencies and dwelt at length on the provisions provided under sections’ 32 & 56 of Indian Contract Act, 1872.
 
Contract management expert delved at length on the affects of COVID-19 on the construction sector and likely claims to be made by the contractors due to the COVID-19 and the lockdown.
 
Source   newsonair-
 
 

AIMA के साथ विश्व बैंक ने “आपातकालीन स्थितियों के दौरान अनुबंध प्रबंधन” पर आभासी कार्यशाला का आयोजन किया


झेलम तवी बाढ़ रिकवरी परियोजना की परियोजना प्रबंधन इकाई के लिए AIMA (ऑल इंडिया मैनेजमेंट एसोसिएशन) के सहयोग से विश्व बैंक द्वारा “आपातकालीन स्थितियों के दौरान अनुबंध प्रबंधन” पर एक आभासी कार्यशाला का आयोजन किया गया था।जो J & K के केंद्रशासित प्रदेश में विश्व बैंक द्वारा वित्त पोषित USD 250 मिलियन बाढ़ रिकवरी परियोजना को कार्यान्वित कर रहा है।
 
कार्यशाला का उद्देश्य प्रतिभागियों को बैंक वित्त पोषित परियोजनाओं के कार्यान्वयन, कॉन्ट्रैक्ट प्रबंधन पर इसके संभावित निहितार्थ और उन्हें विभिन्न तरीकों के उपायों से लैस करने के लिए COVID-19 महामारी के संभावित प्रतिकूल प्रभाव के बारे में शिक्षित करना था।
 
कानूनी विशेषज्ञ ने प्रतिभागियों को आपात स्थिति में संविदा के प्रावधानों की व्याख्या करने के लिए भारतीय कानूनी प्रणाली में विभिन्न प्रावधानों के बारे में जानकारी दी और भारतीय अनुबंध अधिनियम, 1872 की धारा 32 और 56 के तहत प्रदान किए गए प्रावधानों पर लंबाई में घनीभूत किया।
 
स्रोत न्यूज़ोनियर-
Print Friendly, PDF & Email