Shri Arjun Munda launches tribes India products on GeM and new website of TRIFED

Share This Article with Your Friends
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Shri Arjun Munda launches tribes India products on GeM and new website of TRIFED


 

 

Shri Arjun Munda, the Union Minister of Tribal Affairs inaugurated the TRIBES India store on Government eMarketplace which can now help in facilitating purchases by Government and then the revamped website (https://trifed.tribal.gov.in/), which has all relevant details about the schemes and initiatives underway to the benefit of tribal communities.

  • Government Departments Ministries and PSUs can now access TRIBES India products via Government e-Marketplace (GeM) and shop as per GFR regulations.
  • Social inclusion was a major focus in GeM and that niche supplier segments such as start-ups, rural entrepreneurs, tribal entrepreneurs, women, tribals have been encouraged. Taking the example of the newly-inaugurated Rural Development store, which has generated positive response,
  • The digital strategy takes into account the entire supply-demand tribal chain, each and every stage, and includes a state-of-art website ((https://trifed.tribal.gov.in), which offers all information related to the organisaton and its various tribal welfare schemes; setting up of an e-Market Place for Tribal Artisans to trade and directly market their produces; digitisation of all information related to the forest dwellers engaged in its VanDhan Yojana, village haats and warehouses to which they are linked.

 

Source   pib-

 


श्री अर्जुन मुंडा ने जीईएम पर ट्राइब्‍स इंडिया के उत्‍पादों और ट्राइफेड की नई वेबसाइट की शुरूआत की


केन्‍द्रीय जनजातीय मामलों के मंत्री श्री अर्जुन मुंडा ने गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस पर ट्राइब्स इंडिया स्टोर का उद्घाटन किया, जो अब सरकार द्वारा और नई वेबसाइट (https://trifed.tribal.gov.in/) में खरीद को सुगम बनाने में मदद कर सकता है, जिसमें जनजातीय समुदायों के लाभ के लिए चल रही योजनाओं और पहलों के बारे में सभी महत्‍वपूर्ण विवरण हैं।

  • सरकारी विभाग मंत्रालय और सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम अब गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस (जीईएम) के माध्यम से ट्राइब्‍स इंडिया उत्पादों का उपयोग कर सकते हैं और जीएफआर नियमों के अनुसार खरीदारी कर सकते हैं।
  • जीईएम में सामाजिक समावेश पर प्रमुख रूप से ध्यान केन्‍द्रित किया गया और स्टार्ट-अप, ग्रामीण उद्यमियों, आदिवासी उद्यमियों, महिलाओं, आदिवासियों जैसे आला आपूर्तिकर्ता खंडों को प्रोत्साहित किया गया है।
  • डिजिटल रणनीति में पूरी आपूर्ति-मांग आदिवासी श्रृंखला, प्रत्येक चरण को ध्यान में रखा गया है, और इसमें एक अत्याधुनिक वेबसाइट (https://trifed.tribal.gov.in) जिसमें संगठन और विभिन्‍न आदिवासी कल्‍याण योजनाओं; व्‍यापार के लिए आदिवासी कारीगरों के लिए ई-मार्केस प्‍लेस की स्‍थापना करने; उनके उत्‍पादों के सीधे विपणन; वन धन योजना से जुड़े वनवासियों से संबंधित पूरी जानकारी का डिजिटाइजेशन, ग्रामीण हाटों और उनसे जुड़े गोदामों से संबंधित पूरी जानकारी है।

 

स्रोत   pib-

 

Print Friendly, PDF & Email