PM SVANidhi Portal launch (Beta Version)


PM SVANidhi Portal launch (Beta Version)


 

 

Shri Durga Shanker Mishra, Secretary, Housing & Urban Affairs, launched the Beta version of PM Street Vendor’s AtmaNirbhar Nidhi “PM SVANidhi” Portal.

  • Leveraging on the digital technology solutions, the portal provides for an integrated end to end IT interface to users for availing benefits under the scheme.An integrated IT platform (pmsvanidhi.mohua.gov.in) to provide an end-to-end solution for scheme administration is being developed by SIDBI, which is the scheme implementation partner for PM SVANidhi.
  • The portal will facilitate multiple scheme functions viz. loan application flow, Mobile App, e-KYC of applicants, integration with UIDAI, Udyamimitra, NPCI, PAiSA, lenders, States, ULBs and other stakeholders, calculation of digital incentives and payment of interest subsidy etc.
  • One of the important features of the scheme is to nudge the beneficiaries towards digital transactions by engaging with the Digital Payment Aggregators.
  • Further, in addition to the banks already onboarded, 15 MFIs have been onboarded on the portal and many more are expected to join in the coming weeks. The portal shall be continuously upgraded to add functionalities.
  • The PM SVANidhi Portal shall start accepting loan applications from Street Vendors from July 2nd, who can apply directly or with the help of CSCs/ ULBs/ SHGs.
  • The Mobile App facilitated with e-KYC module and loan application flow, to be used by lenders and their agents for application origination, shall be released during this week.
  • The Portal integration with various lenders shall commence during this week and over next few weeks we hope to complete this integration with all the major lenders.
  • The module for enabling street vendors to apply directly for Letter of Recommendation (LoR) to the concerned ULB will be ready by July 10, 2020.

 

Source   pib-

 


प्रधानमंत्री स्वनिधि पोर्टल (बीटा संस्करण) की शुरुआत


वासन एवं शहरी कार्य सचिव, श्री दुर्गा शंकर मिश्रा ने पीएम स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि, “पीएम स्वनिधि” पोर्टल के बीटा संस्करण की शुरुआत की।

  • डिजिटल प्रौद्योगिकी समाधान की सहायता से, इस पोर्टल में योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने के लिए उपयोगकर्ताओं को एकीकृत सुविधा उपलब्ध कराई गई है।
  • सिडबी द्वारा योजना प्रबंधन के लिए एंड-टू-एंड समाधान प्रदान करने के लिए एक एकीकृत आईटी मंच (pmsvanidhi.mohua.gov.in) विकसित किया जा रहा है, जो योजना कार्यान्वयन के लिए पीएम स्वनिधि का साझेदार है।
  • इस पोर्टल के माध्यम से विभिन्न योजना कार्यों की सुविधा प्रदान की जाएगी जैसे ऋण आवेदन प्रवाह, मोबाइल ऐप, आवेदकों के लिए ई- केवाईसी, आईडीएआई, उदयमित्र, एनपीसीआई, पीएआईएसए, ऋणदाताओं, राज्यों, यूएलबी और अन्य हितधारकों के साथ एकीकरण, डिजिटल प्रोत्साहनों की गणना और ब्याज सब्सिडी का भुगतान आदि।
  • डिजिटल भुगतान एग्रीगेटरों के साथ लाभार्थियों को जोड़कर उन्हें डिजिटल लेन-देन के लिए आकर्षित करना, इस योजना की महत्वपूर्ण विशेषताओं में से एक है।
  • इसके अतिरिक्त, इस पटल में पहले से शामिल बैंकों के अलावा, पोर्टल में 15 एमएफआई को शामिल किया गया है और आने वाले सप्ताहों में कई अन्य के शामिल होने की उम्मीद है। इसमे कार्यक्षमताओं को जोड़ने के लिए पोर्टल को लगातार अपग्रेड किया जाएगा।
  • पीएम स्वनिधि पोर्टल 2  जुलाई से स्ट्रीट वेंडरों से ऋण प्राप्ति के लिए आवेदन स्वीकार करना शुरू करेगा, जो प्रत्यक्ष रूप से या सीएससी/यूएलबी/एसएचजी की मदद से आवेदन कर सकते हैं।
  • ई-केवाईसी मॉड्यूल और ऋण आवेदन प्रवाह के साथ मोबाइल ऐप की सुविधा प्रदान की जाती है, जिसका उपयोग ऋणदाताओं और उनके एजेंटों द्वारा आवेदन निर्माण के लिए किया जाता है, उसे इस सप्ताह के दौरान जारी कर दिया जाएगा। विभिन्न ऋणदाताओं के साथ पोर्टल एकीकरण की प्रक्रिया इस सप्ताह के दौरान शुरू हो जाएगी और अगले कुछ सप्ताहों में सभी प्रमुख ऋणदाताओं के साथ इसका एकीकरण पूरा होने की उम्मीद है।
  • स्ट्रीट वेंडरों को संबंधित यूएलबी को प्रत्यक्ष रूप से सिफारिश पत्र (एलओआर) के लिए आवेदन करने में सक्षम बनाने का मॉड्यूल, 10 जुलाई, 2020 तक तैयार कर लिया जाएगा।

 

स्रोत   pib-

Print Friendly, PDF & Email